आंवला विटामिन सी का एक उत्कृष्ट स्रोत है, एक पानी में घुलनशील विटामिन जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है

आंवला विटामिन सी का एक उत्कृष्ट स्रोत है, एक पानी में घुलनशील विटामिन जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है। आंवला शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है, यह पाचन तंत्र के लिए भी बहुत फायदेमंद है। यह त्वचा और बालों को खूबसूरत बनाने के लिए भी जाना जाता है।

सर्दी के मौसम में आंवले के इन्हीं गुणों का फायदा उठाने के लिए दादी-नानी आंवले का मुरब्बा बनाती थीं. आंवले में विटामिन होते हैं. आंवले में कैल्शियम, फोलेट, एंटीऑक्सीडेंट, फाइबर, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, फॉस्फोरस, ओमेगा-3 और मैग्नीशियम भी भरपूर मात्रा में होता है। यह आपकी सेहत को कई तरह से फायदा पहुंचा सकता है. आंवला खाने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।



सर्दियों में आंवला खाने के फायदे

वायरल संक्रमण से बचाव के लिए आंवला: बदलते मौसम में सर्दी-जुकाम, अल्सर और पेट में संक्रमण होना आम बात है। अगर आप इन सब से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आंवले का सेवन करें। आंवले में मौजूद तत्व बैक्टीरियल और फंगल संक्रमण से लड़ने में सहायक होते हैं।

आंखों के लिए अच्छा: आंवला आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। आंवला खाने से आंखें स्वस्थ रह सकती हैं.

बेहतर पाचन के लिए खाएं: आंवला आपके पाचन के लिए भी बहुत अच्छा होता है। यह पाचन में सुधार करता है, गैस और कब्ज की समस्या से राहत दिलाता है।

शरीर को साफ करने में मदद करता है आंवला: इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करते हैं। आंवला शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है।


आंवला खाने का सही तरीका क्या है?

अब यह जानना भी जरूरी है कि आंवले को अपनी डाइट में कैसे शामिल करें। आंवले को कई तरह से खाया जा सकता है. इस आलेख में यहां कुछ विधियों पर चर्चा की गई है। ब्लैकबेरी जैसी दिखने वाली यह मिठाई न केवल खाने में स्वादिष्ट है, बल्कि इसके स्वास्थ्य लाभ भी अद्भुत हैं। आइए जानते हैं आंवला मार्बा बनाने की आसान विधि.



आंवला मुरब्बा बनाने की विधि

आंवला मुरब्बा की सामग्री

आंवला 500 ग्राम

5 हरी इलायची

1/4 चम्मच काली मिर्च

1/4 चम्मच फिटकरी

चीनी 750 ग्राम

1/4 चम्मच केसर

1/2 चम्मच काला नमक


आंवला मुरब्बा कैसे बनाएं

- सबसे पहले आंवले को अच्छे से धो लें और फिर सुखा लें.

एक गहरा पैन लें और उसमें पर्याप्त पानी डालें, पानी को मध्यम आंच पर गर्म करें। जब पानी उबलने लगे तो आंवले को गर्म पानी में डाल दीजिए. - मिश्रण को 5-6 मिनट तक उबालें.

- इसके बाद आंच से उतार लें और पैन को कुछ मिनट के लिए ढक्कन से ढक दें. - अब इसे छलनी से छान लें और सारे आंवले निकाल लें. एक-एक करके प्रत्येक आंवले में चम्मच से 15-20 छेद कर दीजिये ताकि रस अन्दर तक पहुंच सके.


चाशनी तैयार करने के लिए एक मीडियम पैन लें और इसमें चीनी के साथ थोड़ा पानी डालें. - चीनी में उबले हुए आंवले मिलाएं और मध्यम आंच पर पकाएं.

जब चाशनी शहद की तरह गाढ़ी हो जाए और आंवला अच्छे से पक जाए तो आंच धीमी कर दें और ठंडा होने के लिए अलग रख दें। अगर चाशनी अभी भी पतली लग रही है, तो इसे फिर से गाढ़ा होने तक पकाएं।

जब आंवले की चाशनी शहद जैसी गाढ़ी हो जाए तो इसमें इलायची, काली मिर्च, काला नमक और केसर डाल दीजिए. सभी चीजों को अच्छी तरह से मिलाएं और एक जार में स्टोर करें।

ADMIN

ADMIN

Next Story