सर्दिओ के लिए रामबाण उपाय है सरसो का तेल ,जो आप नाभि पर लगाने से, जानिए इसके फायदे के बारे में

अक्सर सर्दियों का मौसम शुरू होते ही या मौसम बदलते ही सर्दी खासी शुरू हो जाती है और लोग जब कड़ाके की सर्दी पड़ने लगती है तो अपने आपको गर्म रखने के लिए पता नहीं कितने तरह के उपाय करते है और आज हम आपके लिए ऐसे ही कुछ आयुर्वेदिक घरलू नुस्खे को लेकर आये है सर्दियों के दिनों सरसो के तेल को बहुत ही अच्छा माना जाता है और सरसों का तेल प्रमुख खाद्य तेल है जो सरसों के बीजों से निकाला जाता है जो कि स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है. जिसमें अल्फा-लिनोलेनिक एसिड नामक ऑमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है. इसके अलावा, सरसों के तेल में विटामिन ई का अच्छा स्रोत भी होता है, जो त्वचा के लिए फायदेमंद होता है. ये खाने और लगाने दोनों के काम आता है आइये हुमुस्के फायदे के बारे में बताते है

सेहत को मिलेंगे कई सारे फायदे :-



1) क्या आपको पता है की सरसों के तेल को नाभि पर लगाने से शारीरिक गर्मी महसूस होती है और इससे ब्लड सर्कुलेशन में सुधार हो सकता है. इसे विशेष आयुर्वेदिक तकनीक को माना जाता है कि नाभि शरीर के मर्म स्थानों में से एक होती है. जिससे मासिक तंत्र, सांस और अन्य शारीरिक प्रक्रियाओं का केंद्र माना जाता है.क्योकि सरसो का तेल बहुत ही गर्म होता है।

2) सरसों के तेल का उपयोग दर्द से राहत पाने के लिए किया जाता है आमतौर पर इसे जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में किया जाता है. यह तेल गर्माहट प्रदान करता है और इसके तेल से मालिश करने पर काफी हद तक दर्द कम हो जाता है.




3) सरसों के तेल में विटामिन और फैटी एसिड्स होते हैं जो त्वचा के लिए फायदेमंद हो सकते हैं. इनमें विटामिनE, ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी एसिड्स होते हैं, जो त्वचा के पोषण में मदद कर सकते हैं. साथ ही त्वचा को मोटापा और रूखापन से बचाते हैं. ये तत्व त्वचा को मोइस्चराइज करने में भी मदद करते हैं और त्वचा को नरम, चमकदार और स्वस्थ बनाए रखने में होते हैं.

4) सरसो का तेल नाभि पर लगाने से व्यक्ति के रोगो से लड़ने की क्षमता को भी मजबूत करता है. और इसके प्रभाव से व्यक्ति खुद को ऊर्जावान महसूस करता है और मन में सकारात्मक विचार आते हैं. इसे कई तरह से लाभदायक माना जाता है और विभिन्न स्वास्थ्य लाभों को बढ़ाने में मदद करता है.

Upasana

Upasana

Next Story