अगर आपको अपने घर में छोटे बच्चो का रूम करना हो तैयार जिसमे आये पोसिविटी ऊर्जा, जाने इसके वास्तु दोष

अगर आपके घर में जब भी कोई ख़ुशी आने वाली रहती है तो आप का और आपके घर का माहौल खुशियों से भर जाता है और जब हमारे घर में छूटे बच्चे की किलकारियां गूंजने लगती है और तो मेहमान के आते ही आप उसके लिए बहुत सारी चीजों के बारे में सोचते है और उसकी तैयारी में जुट जाते है और बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो अपने घर में छोटे बच्चे के लिए अलग से एक कमरा तैयार करने लगते हैं.और कमरा तैयार करते समय आप वास्तु का भी विशेष ध्यान रखें. आइए जानते हैं भोपाल निवासी ज्योतिषी एवं वास्तु सलाहकार पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा से नन्हें बच्चे का कमरा तैयार करते समय किन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए.

वास्तु दोष केअनुसार बच्चो का कमरा कैसा हो चाहिए :-

बच्चो के कमरे को बड़ा सूंदर सा सजाना चाहीये और और उसके कमरे में हमेशा लाइट कलर का उपयोग करना चाहिए और सॉफ्ट कलर ही पैंट करवाएं.और लाइट पिंक, लाइट ब्लू या लाइट ग्रीन कलर का उपयोग कर सकते हैं. जिससे आपको बछ का कमरा बेहद खूसूरत लगेगा

जाने किस दिशा में रहे खिलोने :

जो भी कमरा हो और इस बात क ध्यान रहे है की कमरे का उत्तर-पूर्व कोना को खाली रखे और जो भी बच्चों के खिलौनों को उत्तर-पूर्व दिशा के कोने में रखने से बचना चाहिए. और बच्चों के कपड़ों और सामान को हमेशा ऐसी जगह पर रखें, और जहां से बच्चे की नजर उसपर पड़े. ऐसा करना काफी शुभ माना जाता है.

जाने कैसे रखे अलमारी में ये चीजें :-

हमे बच्चो को खिलोने को हमेशा अच्छे से लगाना चाहिए और बच्चे के कमरे एक अलमारी रखना चाहिए क्योकि जिससे की बह अपनव खिलोनो को सहेजकर रख सके और अगर बच्चों के खिलौने में धूल जमती है तो उससे निगेटिव एनर्जी फैलने लगती है इसलिए उसे साफ़ करते रहना चाहिए ऐसे में बच्चे के कमरे का सामान हमेशा अलमारी में ही रखें.

Upasana

Upasana

Next Story