बाएं हाथ के बल्लेबाज सौरभ तिवारी ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने के अपने फैसले की घोषणा की है। U19 विश्व कप विजेता, तिवारी 15 फरवरी को अपनी टीम झारखंड के लिए रणजी ट्रॉफी में अपना आखिरी मैच खेलेंगे। 15 फरवरी से झारखंड और राजस्थान के बीच शुरू हो रहा रणजी मैच सौरभ तिवारी का आखिरी मैच होगा।

U19 विश्व कप का रहे हिस्सा

34 वर्षीय तिवारी ने U19 विश्व कप जीता है और वह 2008 के विराट कोहली के बैच का हिस्सा थे। उन्होंने उसी वर्ष की शुरुआत में मुंबई इंडियंस और झारखंड के लिए प्रभावशाली प्रदर्शन के बाद अक्टूबर 2010 में भारत में पदार्पण किया। तिवारी ने एमएस धोनी के साथ आईपीएल में राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स का प्रतिनिधित्‍व भी किया था। हालाँकि, एकदिवसीय मैचों में उन्हें भारत के लिए केवल तीन मैच ही मिल सके थे। इन 3 मुकाबलों में उन्होंने 49 रन बनाए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 37 रन है। हालांकि, इसके बाद उन्हें भारतीय टीम में कोई मौका नहीं मिला।

सौरभ तिवारी का क्रिकेट करियर

उन्होंने लीग में चार आईपीएल फ्रेंचाइजी - मुंबई इंडियंस, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) और राइजिंग पुणे सुपरजायंट के लिए खेला। उन्होंने आईपीएल में 1494 और ओवरऑल टी20 क्रिकेट में 3454 रन बनाए हैं। घरेलू क्रिकेट में, तिवारी झारखंड के लिए मुख्य आधार रहे हैं। वह 115 प्रथम श्रेणी मैचों का हिस्सा रहे और 17 वर्षों में 47.51 की औसत से 8030 रन बनाए। उनके नाम 22 शतक और 34 अर्द्धशतक भी हैं।

Updated On
Sumit

Sumit

Next Story