गरीब परिवारों में बेटियों की शादी के लिए केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से कई योजनाओं चलाई जा रही हैं। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार एक बेहद ही शानदार योजना का संचालन कर रही है। योजना का नाम "विवाह अनुदान योजना" है। इस योजना के अंतर्गत गरीब परिवारों को बेटियों की शादी करने के लिए 51 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है। आइये जानते हैं इस योजना से जुड़ी पूरी जानकारी।

"विवाह अनुदान योजना" क्या है?

विवाह अनुदान योजना उत्तर प्रदेश सरकार ने शुरू की है। इस योजना के तहत यूपी सरकार 18 साल या इससे ज्यादा उम्र के लड़कियों के विवाह के लिए परिवार को आर्थिक मदद देती है। यह आर्थिक सहायता ₹51000 की होती है। इनमें से 35 हजार रुपये बैंक खाते में डाले जाते हैं और बाकी के पैसे शादी पर होने वाले खर्च के लिए दिए जाते हैं। एक पिता अधिकतम दो पुत्रियों के लिए अनुदान प्राप्त कर सकता है।

जानिए कौन उठा सकता है योजना का लाभ

योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को उत्तर प्रदेश का निवासी होना जरूरी है। इस स्कीम का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर परिवार उठा सकते हैं। शादी की तिथि तक पुत्री की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक एवं वर की उम्र 21 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। साथ ही विवाह होने वाली कन्या बीपीएल कैटेगिरी में आती हो, यानि उसकी वार्षिक आय किसी श्रोत से परिवार की सालाना आय 46080 (ग्रामीण क्षेत्र) और शहरी क्षेत्र के लिए 56560 से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। आनलाइन आवेदन शादी की तिथि से 90 दिन पहले और 90 दिन बाद तक किया जा सकता है।

Sumit

Sumit

Next Story